Wednesday, March 23, 2011

यमुना ग्रुप ऑफ इंस्टीटयूशन्स में वार्षिक उत्सव का आयोजन

 यमुना ग्रुप ऑफ इंस्टीटयूशन्स  मे दो दिवसीय वार्षिक उत्सव की शुरूआत की गई ।  कार्यक्रम में चौ. देवी लाल इंस्टीटयूट ऑफ मैनेजमेंट, गणपति कालेज ऑफ मैनेजमेंट, शिवालिक ग्रुप ऑफ इंस्टीटयूशन, महार्षि वेद व्यास, ऐसियन इंस्टीटयूट, अंबाला कालेज ऑफ इंजिनयरिंग, हिन्दुस्तान, गुरू गोबिन्द सिंह इंस्टीटयूट आWफ मैनेजमेंट इत्यादि के विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया ।  रंगोली प्रतियोगिता में महार्षि वेद व्यास कालेज के विद्यार्थीयों ने प्रथम स्थान हासिल किया । डैकलामेशन में प्रथम स्थान गणपति संस्थान की महक ने प्रथम स्थान हासिल किया । एक्सटैमपोर में गुरू गोबिन्द सिंह इंस्टीटयूट के सागर भूटानी ने प्रथम स्थान हासिल किया । मंहदी में यमुना ऑफ की बी.बी.ए. की छात्रा सोनम ने  प्रथम स्थान हासिल किया । स्पैल बी. में यमुना ऑफ के अंकूर ने प्रथम स्थान हासिल किया। विभिन्न तकनीकी कार्यक्रम जैसे कि पेपर प्रैजेन्टेशन, क्विज, डिबेट, स्पैल बी, पोस्टर मेकिंग, मेहन्दी, एक्सटैम्पोर, डैकलामेशन, लैन गेमिंग, फेस पेंटिग, सलाद कटिंग, ऑफ डिसकसन व रंगोली प्रतियोगिता मे  छात्रों ने प्रथम स्थान प्राप्त कर पुरस्कार हासिल किए। शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम की शुरूआत  की गई । इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ओ.बी.सी. बैंक, करनाल के डिप्टी जनरल मैनेजर श्री निहाल सिंह कासनियां रहे । मुख्य अतिथि ने भारतीय संस्कृति के अनुरूप दीप प्रजवलित करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया । कार्यक्रम की  शुरूआत मैनेजमैंट के विद्यार्थी हिमांशू शपरा ने शब्द गाकर की । भारतीय संस्कृति की हर झलक को इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रस्तुत किया गया । पंजाब की शान भांगडा प्रस्तुत करते विद्यार्थियों ने अपने जोश से दर्शकों को भी अपने साथ नाचने पर मजबूर कर दिया । इनके इलावा कोरियोग्रफी, माईम, शोलो डांस, सालसा, कलासिकल नृत्य, फैशन प्रेड, मैजिक शो इत्यादि कार्यक्रम के मुख्य आर्कषण रहे।  संस्थान के डायरैक्टर जनरल डा.एस.आर. मैंहदीरत्ता ने संस्थान की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। डा. सर्वजीत कौर ने प्रोग्रम को सुयोजित किया तथा सभी उपस्थित लोगों का ध्न्यवाद किया।  इस कार्यक्रम मे संस्थान के चैयरमैन चौ0 राजिन्द्र कुमार, डायरैक्टर जनरल डा. एस.आर.मैहदीरत्ता,  डायरैक्टर डा. सर्वजीत कौर, डा. राजीव खंडूजा प्रिंसीपल, श्री निर्मल सिंह प्रिंसीपल, इंजि. त्रि‍लोक सिंह, श्री इन्द्रपाल सिंह, श्री सतपाल सिंह उपस्थित थे।



1 comment:

टिप्पणी के लिये धन्यवाद।