Friday, July 22, 2016

चंगनौली में पौधारोपण कार्यक्रम

ग्राम पंचायत चंगनौली द्वारा शुक्रवार को वन विभाग के सहयोग से गांव के आंगनवाड़ी केन्द्र में पौधारोपण  कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत  मुख्यातिथि हरियाणा विधान सभा के अध्यक्ष कंवर पाल ने आगंनवाड़ी केन्द्र में चकरेशिया का पौधा रोपित करके की तथा ग्रामीणों को पौधारोपण के प्रति पे्ररित किया। इस मौके पर एस.डी.एम. बिलासपुर नवीन आहुजा, वन मण्डल अधिकारी निवेदिता भोजराजन, ब्लॉक समिति बिलासपुर के चेयरमैन महीपाल संधाए व सरपंच सिरमौर जंगसिंह  ने भी पौधा रोपण किया। 
पौधारोपण कार्यक्रम के दौरान वन विभाग की ओर से गांव के आगंनवाड़ी केन्द्र, सरकारी स्कूल व श्मशानघाट में चकरेशिया, कदम, अल्सटोनिया,नीम, बड़, पीपल, आवंला, जामुन, जमोया, बेलपत्र आदि विभिन्न प्रकार के लगभग 60 फलदार एवं छायादार पौधे रोपित किए गए। इसके साथ-साथ वन विभाग द्वारा ग्रामीणों को भी फलदार एवं छायादार पौधे बांटे गए। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष कंवर पाल ने गांव वासियों को पौधा रोपण के प्रति पे्ररित करते हुए कहा कि पेड़-पौधों का हमारे जीवन में बहुत महत्व है। पेड़ों से जहां हमें फल, छाया, ईमारती लकड़ी, ईंधन व औषधी आदि प्राप्त होते है, वही ये पर्यावरण प्रदूषण की रोकथाम व इसके सरंक्षण  तथा प्राकृतिक संतुलन बनाए रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। उन्होंने कहा कि पेड़ हमे प्राण वायु आक्सीजन देते है तथा वातावरण में कार्बन डायआक्साइड के स्तर को कम करते है और इस प्रकार पेड़ ग्लोबल वार्मिंग जैसी भयंकर समस्या को कम करने में सहायक होते है। उन्होंने कहा कि परंपरागत फलदार एवं छायादार पेड़ पक्षियों एवं वन्य जीवों को आश्रय प्रदान करते है।  परंपरागत पेड़ों की कमी  के कारण आज हमारे मित्र पक्षी एवं वन्य जीव कम होते जा रहे हंै। हमें अपने पुर्वजों की याद में व बच्चों के जन्म दिवस पर पेड़ अवश्य लगाने चाहिए। उन्होंने ग्रामीणों का आह्वान किया कि वे अधिक से अधिक परंपरागत फलदार एवं छायादार पेड़ लगाए और उनकी देखभाल भी करे, ताकि हमारा पर्यावरण स्वच्छ एवं संतुलित रह सके। इस अवसर उन्होंने ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनी और उनके शीघ्र समाधान का आश्वासन दिया।
    इस मौके पर एस.डी.एम. बिलासपुर नवीन आहुजा, वन मण्डल अधिकारी निवेदिता भोजराजन, तहसीलदार छछरौली अश्वनी गम्भीर, ब्लॉक समिति बिलासपुर के चेयरमैन महीपाल संधाए, भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष मदन चौहान, मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी जश्नजीत सिंह, वन राजिक अधिकारी गुरचरण सिंह व राजीव काम्बोज,सरपंच सिरमौर जंगसिंह, पूर्व सरपंच चमन लाल, पंच रमेश चंद, बलदेव, बलिन्द्र शर्मा, कुलवंत व अन्य गणमान्य व्यक्ति भी मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

टिप्पणी के लिये धन्यवाद।