Saturday, April 13, 2013

रसीदों में हेराफेरी कर लाखों रुपये हड़पे

रसीदों में हेराफेरी कर लाखों रुपये हड़पे


यमुनानगर, 12 अप्रैल (हप्र)। रसीदों में कथित हेराफेरी कर बिजली कर्मचारियों ने लाखों रुपये हड़प लिए। दोषी पाए जाने पर पुलिस ने कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी करने व अमानत में ख्यानत करने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया। मामले में अभी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार उत्तरी हरियाणा बिजली वितरण निगम सब डिविजन (आइटीआई) सर्कल के एसडीओ राजेंद्र कुमार ने फर्कपुर पुलिस को दी शिकायत में बताया कि कुछ दिन पहले उन्हें सूचना मिली थी कि सब डिविजन कार्यालय में जमा हो रहे बिलों की रसीदों में हेराफेरी करके कुछ कर्मचारी विभाग को नुकसान पहुंचा रहे हैं।  सूचना के आधार पर बिलों की रसीदों की जांच की गई तो उनमें आठ लाख 66 हजार 353 रुपये की गड़बड़ी पाई गई। जांच करने पर कार्यालय में तैनात संबंधित कर्मचारियों बलविंद्र सिंह, पवन कुमार व गौरव द्वारा रसीदों में हेराफेरी करके पैसे हड़पने का दोषी पाया गया। जिसके बाद उन्होंने आरोपियों के खिलाफ पुलिस को शिकायत दी।
फर्कपुर पुलिस ने एसडीओ राजेंद्र कुमार की शिकायत पर उक्त तीनों बिजली कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी करने व अमानत में ख्यानत करने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया।
वाहन चोर गिरोह के तीन सदस्य काबू :  पुलिस ने वाहन चोर गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर चोरी किए गए पांच ट्रैक्टरों सहित सात वाहन बरामद किए हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान को अभी गोपनीय रखा गया है।
पुलिस प्रवक्ता तेजबीर सिंह ने बताया कि पुलिस अधीक्षक मितेश जैन के आदेशानुसार कुछ दिन पहले जिले में वाहन चोरी की वारदातों के आरोपियों को पकडऩे के लिए वाहन चोरी निरोधक दस्ता (एवीटी सैल) को आरोपियों को पकडऩे की जिम्मेदारी दी गई थी। जिस पर वाहन चोरी निरोधक दस्ता ने सूचना के आधार पर पुख्ता सबूत मिलने पर देर शाम वाहन चोर गिरोह के तीन सदस्यों को पकडऩे में सफलता मिली।
पूछताछ के दौरान आरोपियों से पुलिस ने अभी तक चोरी किए गए पांच ट्रैक्टर व दो मोटरसाइकिलें बरामद कर ली हैं। आरोपियों से अभी पूछताछ की जा रही है, जिससे और भी वाहन चोरी की वारदातों का खुलासा हो सकता है।

No comments:

Post a Comment

टिप्पणी के लिये धन्यवाद।