Thursday, December 9, 2010

पुलिस से मिलीभगत कर मवेशियों से भरे ट्रकों को क्षतिग्रस्त पुल से निकाला


यमुनानगर के कलानौर पुल पर तोड़ी गई दीवार को दोबारा से बनाते मजदूर।

प्रदेश सहित पांच राज्यों को सड़क मार्ग से जोडऩे वाले कलानौर पुल को बंद करने के आदेशों के बावजूद भारी वाहनों को पुलिस से मिलीभगत करके मवेशियों से भरे ट्रकों को ले जाने के मामले को जिला प्रशासन ने गम्भीरता से लिया है। इस पुल को क्षतिग्रस्त होने के बाद आठ अक्तूबर को आवागमन के लिए पूरी तरह बंद कर दिया गया था और इसके दोनों तरफ दीवार बना दी गई थी। इस पुल से कोई भी वाहन न गुजरे इसके लिए हरियाणा एवं उत्तरप्रदेश के पुलिस कर्मचारियों की ड्यूटियां लगाई थीं।
सूत्रों के अनुसार पिछले तीन-चार रातों में मवेशियों की तस्करी करने वाले लोगों ने हरियाणा एवं उत्तरप्रदेश की पुलिस के लोगों से मिलीभगत करके सैकड़ों की संख्या में ट्रकों एवं अन्य वाहनों को इस क्षतिग्रस्त पुल से निकाला। यह पुल दो पिलर क्षतिग्रस्त होने के कारण बंद किया गया था और इसे वाहनों का लाना ले जाना किसी भी बड़े हादसे का कारण बन सकता था लेकिन इन सब की परवाह किए बिना हरियाणा एवं उत्तरप्रदेश के पुलिस कर्मचारियों ने भारी संख्या में वाहनों को इस क्षतिग्रस्त पुल से निकाला। इस मामले का पता शायद जिला प्रशासन को नहीं चलता, अगर अन्य वाहन चालकों ने इस पुल से जाने का प्रयास न किया होता। इन वाहन चालकों से मवेशियों के भरे वाहनों के चालकों एवं पुलिस वालों ने मारपीट व दुव्र्यवहार किया था। इसी को लेकर इनमें से कुछ लोगों ने इसकी सूचना जिला प्रशासन तक पहुंचाई थी।
इस पुल की एक दिसम्बर को मुरम्मत शुरू कर दी गई ओर इस पर लगातार काम जारी है। ऐसे में जब मजदूर इसकी मुरम्मत का काम कर रहे तो ऊपर से भारी वाहनों का गुजरना खतरनाक साबित हो सकता था। पिछले तीन महीने से इस पुल के यातायात के लिए पूरी तरह बंद होने के कारण लोग काफी परेशान हैं और उन्हीं को राहत देते हुए छोटे वाहनों को पुराने पुल से जाने की इजाजत दी गई है, लेकिन क्षतिग्रस्त पुल से किसी भी तरह की आवाजाही बड़े हादसे को निमंत्रण दे सकती है।
उत्तरप्रदेश ब्रिज कॉर्पोरेशन के प्रोजेक्ट मैनेजेर सतीश कुमार ने ‘दैनिक ट्रिब्यून’ से बातचीत में कहा कि क्षतिग्र्रस्त पुल से किसी भी तरह का कोई वाहन ले जाना हादसे का कारण बन सकता है। इसलिए कोई भी छोटा-बड़ा वाहन इस पुल से नहीं गुजरना चाहिए। उन्होंने बताया कि फिलहाल पुल के दोनों तरफ की तोड़ी गई दीवार की मरम्मत करवा दी गई है।

No comments:

Post a Comment

टिप्पणी के लिये धन्यवाद।