Tuesday, October 5, 2010

हरियाणा अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह के लिए मुख्यमंत्री, हरियाणा के विवेकाधीन कोष से पांच लाख का अनुदान

हरियाणा अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह को मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अपने विवेकाधीन कोष से पांच लाख रुपए और डीएवी गर्ल्स कॉलेज को दस लाख रुपए देने की घोषणा की है। इसके पहले हुड्डा ने डीएवी गर्ल्‍स कॉलेज के ऑडिटोरियम का उद्घाटन भी किया। इस अवसर पर अभिनेता यशपाल शर्मा और फिल्मकार अश्विनी चौधरी भी मौजूद थे।
मुख्यमंत्री ने डीएवी कॉलेज में चल रहे हरियाणा अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टीवल के लिए कॉलेज की प्रशंसा भी की। उन्होंने कहा कि इस फिल्म समारोह में फिल्मकार अडूर गोपालकृष्णन, श्याम बेनेगल, अश्विनी चौधरी, अभिनेता ओमपुरी, यशपाल शर्मा जैसे सुप्रसिद्ध लोग शिरकत कर रहे हैं, जो कि अपने आप में अद्भुत है। फिल्म समारोह के दौरान प्रदर्शित की जा रही हॉलीवुड व बॉलीवुड की दुर्लभ फिल्मों का जिक्र करते हुए कहा कि ऐसे मौके बार-बार नहीं मिलते। जिनमें सत्यजीत राय, गोदार इत्यादि फिल्मकारों की क्लासिकल फिल्में दिखाई जा रही हों। हुड्डा ने कहा कि ऐसी फिल्मों को देखकर दुनिया की संस्‍कृति को जानने का अवसर मिलता है। उन्होंने कहा कि हम दुनिया में सबसे ज्यादा फिल्में बनाने वालों में से हैं। फिल्मों के प्रति युवा पीढ़ी की समझ विकसित हो, इसलिए इस प्रकार के आयोजनों की बहुत जरुरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की असली संस्‍कृति गांवों में देखने को मिलती है। समारोह के दौरान पीपली लाइव का जिक्र करते हुए हुड्डा ने कहा कि इसमें मीडिया, राजनीतिज्ञ व ब्यूरोक्रेसी को सही तरीके से प्रदर्शित किया गया है।
इस मौके पर हुड्डा ने कहा कि हरियाणा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का शिक्षा हब बनाने का ऐलान भी किया। उन्होंने कहा कि महिलाओं की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार वचनबद्ध है। इसके साथ ही उन्होंने यमुनानगर में प्रस्तावित डीएवी महिला विश्वविद्यालय को हर संभव मदद देने का भरोसा भी दिया। उन्होंने कहा कि यह विश्वविद्यालय प्रदेश के लिए गौरव की बात है। उन्होंने बताया कि रोहतक में स्टेट इंस्टीट्यूट फिल्म एंड टेलीविजन बनाया जाएगा।
डीएवी प्रबंधन समिति की सचिव शीतल शर्मा ने कहा कि सरकार की मदद से यमुनानगर में बढिय़ा महिला विश्वविद्यालय बनाया जाएगा। इसके लिए संस्थान ने जगाधरी में जमीन ले ली है। महिला विश्वविद्यालय का मॉडल भी तैयार कर लिया गया है।
डीएवी प्रबंधन समिति के सचिव विजय सभरवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री के दादा डीएवी शिक्षण संस्थान के फाउंडर रह चुके है। हरियाणा सरकार में शिक्षा के क्षेत्र में बहुत तरक्की हुई है। इस प्रकार के आयोजनों में पैसे की कमी होती है, इसलिए प्रदेश सरकार को चाहिए कि वह इसे संरक्षण प्रदान करें।
फिल्म समारोह के निदेशक अजित राय ने कहा कि हरियाणा सांस्कृतिक नवजागरण के कगार पर खड़ा है। यमुनानगर में आयोजित तीसरे हरियाणा अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह की विदेशों में प्रशंसा हो रही है। गोवा में आयोजित फिल्म समारोह में २५० करोड़ रुपए खर्च किए जाते हैं, जबकि यहां पर पांच लाख रुपए में ही यह आयोजन हो रहा है। सिनेमा हरियाणा की असली पहचान है। इस फिल्म समारोह में फिल्मकार अश्विनी चौधरी व अभिनेता यशपाल शर्मा एक साथ खड़े हैं। उन्होंने सीएम से अनुरोध किया कि वे इस समरोह को संरक्षण प्रदान करें।
कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के पूर्व उपकुलपति डा. भीम सिंह दहिया ने कहा कि देश के २० हजार कालेजों में यमुनानगर का डीएवी कॉलेज टॉप ५० में शामिल है। देश में ७०० विश्वविद्यालय व २० हजार कालेजों में मात्र डीएवी कालेज ही ऐसे है, जहां पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर का फिल्म समारोह आयोजित किया जा रहा है।
फिल्म अभिनेता यशपाल शर्मा ने कहा कि इस समारोह का श्रेय कालेज की प्रिंसिपल डॉ. सुषमा आर्य व फिल्म समारोह के निदेशक अजित राय को जाता है। पिछले साल फिल्म समारोह में उनकी जॉनी-जॉनी यस पापा फिल्म दिखाई गई थी, जिसकी सभी ने खूब सराहना की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजनों में नया कुछ करने का अवसर मिलता है। उन्होंने सीएम से अनुरोध किया कि वे इस प्रकार के आयोजनों पर ध्यान दें, ताकि युवाओं को सीखने का अवसर मिल सके।
फिल्मकार अश्वि‍नी चौधरी ने कहा कि किसी ने सपने में भी उम्मीद नहीं की होगी कि यमुनानगर जैसे छोटे शहर में अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह का आयोजन किया जाएगा। इस प्रकार के आयोजन से प्रदेश के कल्चर को बढ़ावा मिलता है। इस दिशा में और भी प्रयास होने चाहिए। उन्होंने कहा कि जब भी उन्हें हरियाणा में बुलाया जाएगा, तो वे अवश्‍य आएंगे।
कॉलेज प्रिंसिपल डा. सुषमा आर्य ने कहा कि डीएवी कालेज कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के तहत आने वाले सभी महिला कालेजों में टॉप पर है। जबकि सभी 425 कॉलेजों में वह दूसरे नंबर पर है। कालेज को यूजीसी की ओर से कॉलेज फॉर एक्सीलेंसी का अवार्ड भी मिल चुका है। खेलकूद व सांस्कृतिक गतिविधियों में कालेज की छात्राएं बढ़चढ़ कर भाग लेती हैं। शिक्षा के क्षेत्र में कालेज आगे है। इस अवसर पर साढौरा विधायक राजपाल सिंह, यमुनानगर की पूर्व विधायिका डा. कृष्णा पंडित, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के युवा एवं सांस्कृतिक मामलों के निदेशक अनूप लाठर, उपायुक्त अशोक सांगवान उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

टिप्पणी के लिये धन्यवाद।